Wednesday, 20 February 2013

आकाशवाणी के दिल्ली केंद्र द्वारा आयोजित कार्यक्रम श्रंखला *शाम की चाय*

सुप्रसिद्ध पत्रकार श्री कुलदीप नैय्यर ने आमंत्रित श्रोताओं के
समक्ष आकाशवाणी के स्टूडियो में अपने अनुभव और अपने संस्मरणों को साझा
किया। विभाजन और महात्मा गांधी की ह्त्या के समय के हालात का वर्णन इतना
मार्मिक था की स्टूडियो में उपस्थित श्रोता गंभीर हो गए। स्वर्गीय लाल
बहादुर शास्त्री और जवाहर लाल नेहरू के जीवन के कई प्रसंग ऐसे थे,
जिन्हें श्रोताओं ने बहुत ध्यान से सुना। इसका प्रसारण आगामी सोमवार 25
फरवरी को रात 9.30 बजे इन्द्रप्रस्थ, राजधानी, एफ . एम . रेनबो पर किया
जाएगा तथा उसी रात 12 बजकर 5 मिनट पर एफ . एम . गोल्ड पर किया जाएगा .
उनसे बातचीत के लिए बी बी सी के वरिस्ठ सम्पादक श्री रेहान फज़ल मौजूद थे


No comments:

Post a comment